!! किन्नौर ! ग्लेशियर की चपेट में आये सभी जवानों के शव 23 दिन बाद खोज लिए गए ! !!

अंतिम अपडेट 14-Mar-2019 12:10:27 pm

रिपोर्टर किन्नौर

किन्नौर ! भारत-तिब्बत सीमा के साथ लगते किन्नौर जिला के नामज्ञा डोगरी नामक स्थान पर गत 20 जनवरी को ग्लेशियर की चपेट में आर्मी के 6 जवान आए थे। इन में से 4 जवानों के शव पहले ही बरामद कर लिए गए थे बाकी दो जवानों की खोज ग्लेशियर के बीच जारी थी । गुरवार सुबह 23 दिन बाद दोनो जवानों के शव खोज लिए गए। इन शहीद जवानों की पहचान कुल्लू ज़िला के खरगा निवासी नायक विदेश चंद और जम्मू कश्मीर निवासी रायफलमैन
अर्जुन कुमार के रूप में की गई है।

गौरतलब यह है कि गत 20 फरवरी को आर्मी के 7 जेके राइफल्स के 6 जवान पेयजल लाइन दरुस्त करते हुए नमज्ञा ग़ांव और तिब्बत सीमा शिपकिला के मध्य नमज्ञा दोगरी में ग्लेशियर की चपेट में आ गए थे। घटना के बाद से ही आर्मी का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी था। सर्च ऑपरेशन में सेना समेत 400 से अधिक लोग में लगे हुए थे। करीब 6 सौ मीटर लम्बे ग्लेशियर क्षेत्र में जवानों को खोजना चुनौती बना था।घटना के दिन हवलदार राकेश कुमार को ग्लेशियर से निकल लिया गया था, लेकिन चिकित्सल्य ले जाते जवान की मौत हो गई। इस के अलाव सर्च ऑपरेशन में रायफलमैन नितिन राणा, रायफलमैन राजेश ऋषि, रायफलमैन गोविंद बहादुर छेत्तरी, और राकेश कुमार के शव पहले ही ग्लेशियर से निकल लिए गए थे।


प्रायोजित विज्ञापन

ज्योतिष परामर्श