!! राज्य स्तरीय नलवाड़ी मेले को लेकर जिला प्रशासन ने की प्रेस वार्ता !! !!

अंतिम अपडेट 20-Feb-2018 04:26:25 pm

गीतांजलि शर्मा

जिला बिलासपुर की पौराणिक संस्कृति व पशु मण्डी को प्रदर्शित करने वाले राज्य स्तरीय नलवाड़ी मेले में इस वर्ष आम जनमानस की सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए उपायुक्त बिलासपुर ने आज बचत भवन में नलवाड़ी पीपल फेस्टिवल बिलासपुर के नाम से लाॅगो का विमोचन किया ।

 इस अवसर पर पत्रकार वार्ता के दौरान उन्होंने बताया कि 17 मार्च से 23 मार्च 2018 तक लूहणु में आयोजित किए जाने
राज्य स्तरीय मेले के मौलिक स्वरूप में बदलाव किए बिना इसे और अधिक आकर्षक मनाने के लिए प्रयास किए जाएंगे जिसके लिए मेले के शुभारम्भ अवसर पर लक्ष्मी नारायण मन्दिर से निकलने वाली शोभा यात्रा को भव्य और आकर्षक बनाने के लिए सामूहिक रूप से प्रशासन व स्थानीय लोगों के सहयोग की नितान्त आवश्यकता रहेगी ताकि जिला के सबसे बड़े मेले का गौरव बरकरार रह सके । उन्होंने कहा कि शोभायात्रा का थीम स्वच्छता पर आधारित होगा तथा नलवाड़ी मेले की एक संध्या को फेमली संध्या के रूप में मनाया जाएगा जिसमें लोकल उभरते हुए कलाकारों को भी मोैका दिया जाएगा ।

उन्होंने कहा कि नलवाड़ी पीपल फेस्टिवल बिलासपुर के लाॅगो में जिला की प्राचीन संस्कृति, पुराने मन्दिरों तथा पशु प्रदशर्नी को दर्शाते हुए महर्षि व्यास, पुराने राजा के महल, गांेबिन्द सागर में डूबे हुए पुराने मन्दिर, बच्छरेटु का किला, क्रिकेट स्टेडियम, कुश्तियां,  कन्दरौर का पुल, रूकमणी कुण्ड, धौलरा का मदिंर, नैना माता का मन्दिर, दयोठसिद्व मन्दिर सहित 12 स्थान दर्शाए गए हैं ।

उन्होंने कहा कि मेले में नयापन लाने व मेले को सफलतापूर्वक आयोजित करने व आय के साधन जुटाने के लिए जिला प्रशासन की ओर से एक अनोखी पहल की गई है जिसमें सभी अधिकारियों व कर्मचारियों ने वाॅलेंटियरी तौर पर आधे दिन का वेतन नलवाड़ी कोष में जमा करवाने का निर्णय लिया है। जिसके तहत उपायुक्त कार्यालय व एसपी कार्यालय के सभी अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा दिए गए आधे दिन के वेतन का कुल 63 हजार रू0 एकत्रित हो चुका है और उस राशि को नलवाड़ी कोष में जमा किया गया है ।  

उन्होंने कहा कि सभी विभागों को भी वाॅलेंटियरी तौर पर आधे दिन का वेतन नलवाड़ी कोष में जमा करवाने के लिए कहा गया है दैनिक भोगी तथा कन्ट्रेक्ट पर लगे कर्मचारियों से राशि नहीं ली जाएगी । 

उन्होंने कहा कि माननीय उच्च न्यायालय के निर्देशों की पालना करते हुए शहर के नाजायज कब्जा धारकों को नोटिस जारी किए गए है । उन्होंने कहा कि 06 मार्च को माननीय उच्च न्यायालय में प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की जाएगी । उन्होंने कहा कि भाखड़ा विस्थापितों के संरक्षण के लिए जिला प्रशासन सदैव तत्पर है और कानून के दायरे में रहकर ही कार्यवाही की जाएगी । उन्होंने नाजायज कब्जा धारकों से स्वयं ही नाजायज कब्जों को हटाने का आग्रह किया। 

 उन्होंने कहा कि कोर्ट रोड़ से लेकर पेट्रोल पम्प तक सड़क किनारे बेतरतीब ढंग से वाहन खड़ें रहते है जिस कारण दुघटर्ना का अन्देशा बना रहता है और लोगों को आने जाने में दिक्कत आती है इस समस्या को खत्म करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा नगर परिषद बिलासपुर, व्यापार मण्डल तथा पूर्णम माॅल के मालिक से वार्ता की गई है और पूर्णम माॅल के मालिक ने माॅल में बनी पार्किंग में वाहन पार्किंग के रेट लगभग आधे करने पर सहमति जता दी है। उन्होंने वाहन चालकों से आग्रह किया कि सभी अपने-अपने वाहन माॅल में बनी पार्किंग में ही पार्क करें । 

प्रैस वार्ता के दौरान अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी विनय कुमार, एसडीएम सदर प्रियंका वर्मा तथा एसी टु डीसी कविता ठाकुर उपस्थित रही ।  


प्रायोजित विज्ञापन

ज्योतिष परामर्श